पेट कम करने के लिए क्या खाना चाहिए

आप दिखने में भले ही सुन्दर और आकर्षक हो, पर आपका बाहर निकला हुआ पेट आपकी सुंदरता को छिपा देता है। जबकि तंदुरुस्त और पुष्ट शरीर सबको पसंद होता है। लेकिन बाहर निकला हुआ पेट नहीं। आमतौर पर पेट का बाहर निकलना कोई रोग नहीं माना जाता। लेकिन जिन लोगों में कब्ज और गैस की समस्या होती है। उनमे पेट साफ न होने से पेट बाहर निकलने लगता है। जिसमे सुबह उठते ही पेट साफ होने के उपाय अत्यंत लाभकारी है। 

आमतौर पर पेट साफ न होने की समस्या, खान पान की गड़बड़ी और परिश्रम के अभाव में शुरू होती है। जिससे हमारा पेट धीरे – धीरे बाहर निकलना शुरू हो जाता है। पर यह हमें तब समझ आता है, जब हमारा वजन बढ़ जाता है। जिसके कारण हमारी दैनिक क्रियाए प्रभावित होने लगती है। जिसको दूर करने के लिए हमें हमारे खानपान में बदलाव लाना आवश्यक हो जाता है। जिसमे हमको यह जानना जरूरी है कि पेट कम करने के लिए क्या खाना चाहिए?

सामान्यतः 30 – 40 वर्ष की आयु तक हमारा पेट नहीं निकलता। लेकिन जैसे ही आयु 40 वर्ष से अधिक होने लगती है। शरीर ढीला पड़ना शुरू हो जाता है। जिसमे गलत खानपान और दिनचर्या चार चाँद लगा देती है। जिससे बहुत तेजी से हमारा पेट बाहर निकलने लगता है। जिससे एक ओर यह हमारी सुंदरता को कम करता है। वही दूसरी थकान और अनेक तरह की बीमारियों को पैदा करता है। जिससे चिंतित होकर लोग सोचने लगते है कि पेट कम करने के लिए क्या करें?

पेट बाहर निकलने का कारण

एक ओर प्राद्यौगिकी का विकास होने से सुविधाए बढ़ी है। वही दूसरी ओर सुविधाओं का उपभोग करने वालों की भरमार है। जिससे जन्म होता है पाचन अव्यवस्था का। जिससे आज के समय में न केवल बूढ़े और प्रौढ़ प्रभावित है। बल्कि युवा और बच्चे भी अछूते नहीं रहे। जिसके निम्नलिखित संभावित कारण हो सकते है

  • अत्यधिक तला – भुना, मिर्च और मसालेदार खाद्य सामाग्रियो का सेवन करना
  • खाने में चटपटी, तीखी और गरम चीजे अधिक खाना
  • चिकना, रुखा और अधपका भोजन करना
  • नियत समय पर भोजन न करना
  • खड़े होकर भोजन करना
  • रात्रि में देर से भोजन करना
  • मात्रा से अधिक भोजन करना
  • रात में खाते ही सो जाना
  • खाना खाने के पहले और बाद में अधिक पानी पीना
  • खाना खाते समय औसत से अधिक पानी पीना
  • कच्चे और पके भोजन को साथ मिलाकर खाना
  • खाने में जले हुए तेल का प्रयोग करना
  • भोजन में घी आदि का प्रयोग न करना
  • बर्फ का पानी पीना और आइसक्रीम आदि खाना
  • अचार, खटाई आदि खट्टी चीजों का अधिक प्रयोग करना
  • खाने में नमक ज्यादा खाना
  • टीवी देखते हुए अथवा गाना सुनते हुए भोजन करना
  • मेहनत न करना, आदि।   

पेट कम करने का तरीका

आजकल के वातावरण ने हमारी जीवनशैली को ही बिगड़ के रख दिया है। जिसमे न हम सही से खा पाते है और न सही से सो पाते है। फिर मेहनत एवं व्यायाम करना आदि तो दूर की बात। जिनके अभाव में उपजती है, पाचन समस्याए। जिन पर काम के दबाव के कारण हमारा ध्यान ही नहीं जाता। जब तक इनसे हमें किसी प्रकार की कोई शारीरिक या मानसिक समस्या नहीं होती। तब तक इन पर हम ध्यान भी नहीं देते। लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी होती है। मतलब हमारी कमर चौड़ी और पेट बाहर निकल चुका होता है।

जिसको कम करने के लिए हम पेट कम करने के टिप्स को आजमाने लगते है। जिसमे सबसे पहले पेट कम करने के घरेलू उपाय के रूप में, कमर और पेट कम करने की एक्सरसाइज करने लगते है। जिससे शुरुआत में कुछ लाभ दिखाई पड़ता है। किन्तु कुछ दिनों के बाद कोई विशेष बदलाव नजर नही आता। जिससे हमारी सुंदरता पर ग्रहण लगने के साथ – साथ, शारीरिक कष्ट होने से दिनचर्या आदि में अड़चन आने लगती है।

जिससे निजात पाने के लिए लोग पेट कम करने का तरीके खोजने लगते है। जिसके लिए ज्यादातर लोग पेट कम करने की एक्सरसाइज आदि की सलाह देते है। जो अधिक समय तक करने पर लाभ पहुंचाता है। परन्तु आज के समय में लोगों के पास समय का अकाल पड़ा है। जिसके कारण पेट कम करने की एक्सरसाइज  करे तो कैसे?

हमारा स्वास्थ्य आहार, दिनचर्या और परिश्रम का मिला जुला रूप है। जिसकी शरण में गए बिना हमारा कल्याण नहीं हो सकता। इसलिए पेट को कम करने के लिए पर्याप्त व्यायाम, अनुकूल दिनचर्या के साथ उपयुक्त खानपान को नियमित करना अनिवार्य है। लेकिन कठिनाई यह है कि पेट कम करने के लिए क्या खाना चाहिए के बारे में लोगो को पता ही नहीं होता।


अन्य पढ़ें: इन 11 योगासन से पाए स्ट्रेस और थकान से राहत | These 11 Yoga Poses Will Give You Relief


पेट कम करने के लिए क्या खाना चाहिए

आजकल यह समस्या महामारी जैसी होती जा रही है। जिसके लिए बड़ों की तो दूर की बात, अब तो लोग बच्चों का पेट कम करने के तरीके ढूढ़ने लगे है। जिसके लिए हर कोई खाने पीने में विशेष बदलाव करने की सलाह देता है। जिससे लोग यह जानने में लगे रहते है कि पेट कम करने के लिए क्या चीज खाएं और क्या नहीं।

आयुर्वेद ने पेट के प्रमाण के रूप में, छाती ऊंची और पेट नीचा स्वीकारा है। जो व्यक्ति के स्वस्थ होने पर ही सम्भव है, अर्थात पाचन दुरुस्त हो और पेट नियमित साफ होता रहे। लेकिन अधिकांश मामलों में ऐसा नहीं हो पाता। जिससे लोग पेट को कम करने के लिए क्या खाएं की बात करते है। परन्तु यदि खाने में कुछ चीजों पर ध्यान दिया जाय तो बाहर निकला हुआ पेट अंदर जा सकता है। जैसे –

  • पचने में आसान, सुपाच्य और स्वादिष्ट भोजन करे
  • हल्का और आसानी से पचने वाले भोजन का ही सेवन करे
  • मीठे में गुड़ अथवा मिश्री का प्रयोग करे
  • भोजन में मोटे अनाज ( मिलेट ) का सेवन करे
  • रिफाइंड नमक के स्थान पर सेंधा या काला नमक प्रयोग करे
  • नियमित मौसमी ताजे फल और सब्जियों का सेवन अवश्य करे
  • खाना बनाने के लिए कोल्ड प्रेस्सेड ( लकड़ी की घानी ) तेल का प्रयोग करे
  • तलने के लिए सरसों के तेल के स्थान पर, नारियल के तेल या घी का प्रयोग करे
  • खाने में स्नेह के रूप में शुद्ध घी का ही सेवन करे
  • छाछ का सेवन भरपूर मात्रा में करे, आदि।

पेट कम करने के लिए क्या नहीं खाना चाहिए

बाहर निकला हुआ पेट कम करने के लिए, खानपान में विशेष तरह के बदलाव की आवश्यकता पड़ती है। जिसमे सावधानी रखने वाले लोग, आसानी से अपना पेट कम कर लेते है। लेकिन इसके साथ दिनचर्या और व्यायाम की भी आवश्यकता रहती है।

ज्यादातर लोग पेट निकलने का कारण, रात के खाने को समझते है। जिसके लिए उनके मन में होता है कि पेट कम करने के लिए रात को क्या खाएं है? यह बात सही है कि पाचन की समस्याओं को खड़ा करने में रात के भोजन का अहम योगदान होता है। लेकिन पाचन की समस्या मिलावटी और गलत खानपान के कारण भी आती है। जिसका सेवन पेट कम करने की इच्छा वाले व्यक्ति को नहीं करना चाहिए। जैसे –  

  • खाना बनाने के लिए रिफाइंड तेल का प्रयोग न करे
  • वनस्पति घी का बिलकुल सेवन न करे
  • चिकनाई और रूखी वस्तुओ के सेवन से बचे। जैसे – विस्कुट, नमकीन, केक आदि,
  • फ़ास्ट और जंक फ़ूड से दूरी बनाये
  • सॉफ्ट और कोल्ड ड्रिंक के सेवन से बचे
  • बर्फ के ठंडे पानी का सेवन न करे
  • रात्रि में देर से भोजन न करे
  • रात के खाने में हल्का भोजन ही करे
  • खाना खाने के बाद अधिक मात्रा में पानी न पिए
  • कच्चे और पके हुए भोजन को एक साथ मिलाकर न खाये
  • दही और दूध के साथ नमक का सेवन न करे
  • चीनी का सेवन न करे
  • रात्रि में देर से पचने वाला भोजन न करे, आदि।    

निष्कर्ष :

बाहर निकला हुआ पेट किसी को पसंद नहीं होता। लेकिन मिलावटी और गलत खानपान से, पेट के रोग पैदा होने लगते है। जिसमे बची खुची कसर को पूरा करने आ जाते है, दिनचर्या और व्यायाम विकूलता। जिसको दूर किये बिना पेट कम करना बहुत कठिन है। इसलिए पेट कम करने के लिए, खानपान पर विशेष ध्यान रखना आवश्यक है। जिसके लिए पेट कम करने के लिए क्या खाना चाहिए और क्या नहीं समझना जरूरी है।

ब्लॉग अस्वीकरण

इस ब्लॉग में दी गई समस्त जानकारी केवल आपकी सूचनार्थ है और इसे व्यावसायिक उद्देश्यों हेतु उपयोग में नहीं लिया जाना चाहिए। यद्यपि हम इस जानकारी की सटीकता और पूर्णता सुनिश्चित करने का हर संभव प्रयास करते हैं, लेकिन फिर भी इसमें कुछ त्रुटियाँ हो सकती हैं। हम किसी भी आलेख के उपयोग से उत्पन्न होने वाली संभावित क्षति हेतु किसी प्रकार से उत्तरदायी नहीं होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *